डी ए वी पी जी कॉलेज का पांचवा दीक्षांत समारोह सम्पन्न

समय साक्ष्य/ ब्यूरो 

डीएवी पीजी कॉलेज, देहरादून में आज पंचम दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया। समारोह का शुभारंभ कृषिमंत्री  सुबोध उनियाल एवं उच्चशिक्षा मंत्री डॉ धन सिंह रावत के साथ संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर राजपुर विधायक खजान दास एवं एचएनबी केंद्रीय विश्वविद्यालय की कुलपति  अन्नापूर्णा नौटियाल भी उपस्थित थी।
दीक्षांत समारोह के अवसर पर आर्ट, वाणिज्य, विज्ञान एवं विधि के छात्र छात्राओं को स्नातक एवं स्नाकोत्तर उपाधि से अलंकृत किया गया। इस दौरान मेरे व कृषि मंत्री एवं उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा विभिन्न संकायों में उच्च प्रदर्शन करने वाले छात्र -छात्राओं को गोल्ड, सिल्वर एवं काँस्य मेडल द्वारा सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर डीएवी पीजी कॉलेज के प्राचार्य अजय सक्सेना ने कॉलेज के विगत तीन वर्षों की उपलब्धि से सभी को अवगत कराया। कार्यक्रम के दौरान अतिथियों द्वारा कॉलेज की स्मारिका का विमोचन भी किया गया।

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में डी0ए0वी0 (पी0जी0) कॉलेज, देहरादून 114 वर्ष के अपने यशस्वी यात्रा में इस महाविद्यालय ने शिक्षा के साथ-साथ खेल और सांस्कृतिक गतिविधियों में विश्वविद्यालय और प्रदेश स्तर पर अपनी महत्वपूर्ण पहचान स्थापित की है।
दीक्षांत समारोह में स्वर्ण पदक एवं स्नात्तकोत्तर उपाधियों से अलंकृत होने वाले छात्र-छात्राओं को शुभकामना और बधाई देते हुए कहा कि अथक परिश्रम का यह स्वर्णिम अवसर अद्भुत है। यह मौका हर व्यक्ति के जीवन में नहीं आता। गोल्ड मेडल पाने वाले विद्यार्थियों के लिए यह खुशी का दिन है। जो विद्यार्थी इस प्रतिस्पर्धा में छूट गए हैं, उन्हें हिम्मत रखकर चुनौती को स्वीकार करना चाहिए। साथ ही असफलता का आत्म निरीक्षण करना चाहिए ऐसा करने वाला विद्यार्थी अपने लक्ष्य को प्राप्त करता है।
आज हमारे देश के लिए युवक सबसे बड़ी पूंजी है, इसका सही दिशा में उपयोग होना चाहिए। देश के नवनिर्माण और समाज के नैतिक उत्थान के प्रति युवा वर्ग की जिम्मेवारी बहुत अधिक है।
जीवन में निरंतर आगे बढ़ते रहने के लिए परिवर्तन और प्रगति के नये स्वरूप को स्वीकार करना होगा। हर परिस्थिति में अपनी संस्कृति और सभ्यता के वर्चस्व को कायम रखने के लिए संकल्पित रहें।

विधानसभा अध्यक्ष

प्रेम चंद्र अग्रवाल

NO COMMENTS