मुश्किल हुआ फेसबुक पर किसी को सर्च करना, कंपनी ने बंद कर दिया ये फीचर

अपना डेटा लीक होने के बाद लगातार फेसबुक अपनी पॉलिसीज में बदलाव कर रही है। अब कंपनी ने यूजर्स के लिए एक बहुत बड़ा बदलाव कर दिया है। दरअसल अब फेसबुक पर अपने दोस्तों को सर्च करना मुश्किल हो गया है। पहले यूजर किसी का मोबाइल नंबर डालकर उसे सर्च कर लेते थे। अब कंपनी ने इस फीचर को बंद कर दिया है। अब यूजर किसी को भी उसके मोबाइल नंबर से सर्च नहीं कर पाएंगे। दरअसल एक ही नाम के कई प्रोफाइल होने के कारण लोग मोबाइल नंबर से फेसबुक पर अपने दोस्तों को सर्च कर रहे थे लेकिन इस फीचर का गलत इस्तेमाल भी हो रहा था। कई अपराधी किस्म के लोग मोबाइल नंबर की मदद से लोगों को फेसबुक पर खोज रहे थे और उनकी जानकारियां जुटाते थे। इसलिए कंपनी ने इस फीचर को अब बंद कर दिया है।

इसके अलावा फेसबुक ने थर्ड पार्टी ऐप के लिए नियम सख्त किए हैं। कोई भी थर्ड पार्टी ऐप अब फेसबुक यूजर्स की वैवाहिक, धर्म, व्यूज और ऑफिस आदि की जानकारी नहीं इकट्ठा कर सकते हैं। फेसबुक ने इसकी जानकारी अपने ब्लॉग पोस्ट में दी है। एक अन्‍य ब्‍लॉग पोस्‍ट में फेसबुक ने कहा है कि अब यूजर खुद तय कर सकेंगे कि वे कौन सा विज्ञापन देखेंगे या नहीं देखेंगे। ब्‍लॉग में कहा गया है कि फेसबुक विज्ञापन कंपनियों से यूजर की कोई जानकारी शेयर नहीं करेगी। हमारी विज्ञापन पॉलिसी में इस बात की विस्‍तार से जानकारी है कि किस तरह यूजर्स को विज्ञापन दिखाने का हम निर्णय करते हैं। हमने विस्‍तार से बताया है कि हम अपनी सेवाओं, इनफ्रास्‍ट्रक्‍चर और जानकारियां किस प्रकार से शेयर करते हैं।

सभी एप्‍स को यूजर्स की पोस्‍ट, फोटो, वीडियो, लाइक, चेक इन, इवेंट या ग्रुप जैसी जानकारी हासिल करने के लिए फेसबुक से मंजूरी लेनी जरूरी होगी। फेसबुक के सीटीओ ने कहा कि हमने ऐप्‍स को इस प्रकार की मंजूरी 2014 में देनी शुरू की थी लेकिन इन आंकड़ों को एक्‍सेस करने के लिए किसी भी ऐप को फेसबुक से मंजूरी लेने के लिए कड़े प्रावधान से गुजरना होगा।

NO COMMENTS