पंचकेदारों में शामिल द्वितीय केदार मद्महेश्वर धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खुले

आस्था और उल्लास के बीच पंचकेदारों में शामिल द्वितीय केदार मद्महेश्वर धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए हैं। अब आगामी छह माह तक भगवान मद्महेश्वर की पूजा अर्चना इसी मंदिर में होगी।

इससे पहले केदारनाथ धाम, तृतीय केदार तुंगनाथ और चतुर्थ केदार रुद्रनाथ के कपाट खोले जा चुके हैं, जबकि पंचम केदार कल्पेश्वर के कपाट वर्षभर खुले रहते हैं। कपाट खुलने के पहले ही दिन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मद्महेश्वर के दर्शन किए।

सोमवार को अंतिम पड़ाव गौंडार गांव में ब्रहमबेला में विधि विधान से पूजा-अर्चना के बाद मद्महेश्वर की चल विग्रह डोली धाम के लिए रवाना हुई थी। बनतोली, खटरा, नानौं, मैखंबा, कुनचट्टी पड़ावों से होते हुए डोली मंदिर परिसर के पास देवदर्शनी पहुंची। शंखनाद के बाद डोली ने मंदिर परिसर में प्रवेश किया और मंदिर की परिक्रमा की।

इसके बाद ठीक साढ़े ग्यारह बजे मंदिर के कपाट खोल दिए गए। बाबा की डोली ने मंदिर में प्रवेश किया, तथा प्रतीक रूप में भगवान मदमहेश्वर यहां विराजमान हो गए। आने वाले छह महीनों तक भगवान के यही पर भक्त दर्शन कर सकेंगे।

NO COMMENTS