15वें वित्त आयोग की बैठक आयोजित की गई।

15वें वित्त आयोग के अध्यक्ष  एन0के0 सिंह की अध्यक्षता में मंगलवार को सचिवालय में वित्त आयोग की बैठक आयोजित की गई। मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत व राज्य के वित्त मंत्री  प्रकाश पन्त भी बैठक में उपस्थित थे। मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत तथा वित्त मंत्री  प्रकाश पन्त ने अपने स्वागत सम्बोधन में वित आयोग से राज्य की कठिन भौगोलिक परिस्थितियों के दृष्टिगत विशेष सहायता, राज्य की आपदा संवेदनशीलता, पेयजल व अन्य परियोजनाओं की अधिक लागत, राज्य सरकार के जल संरक्षण कार्यक्रमो, राज्य का ईको सर्विसेज व कार्बन क्रेडिट में योगदान, राजस्व डेफिसिट ग्रान्टस की हानि व 14वे वित्त आयोग का राज्य की वितीय स्थिति पर दुष्प्रभाव पर चर्चा की। बैठक के दौरान सचिव वित्त उत्तराखण्ड सरकार द्वारा राज्य की वित्तीय स्थिति पर प्रस्तुतिकरण दिया गया। 15वें वित्त आयोग द्वारा उत्तराखण्ड के व्यापार व उद्यमों के प्रतिनिधियों से भी राज्य के विभिन्न वित्तीय पक्षो पर सुझाव आमंत्रित किए गए। इस अवसर पर 15वे वित आयोग के सदस्य  शक्तिकान्त दास, डा0 अनुप सिंह, डा0 अशोक लाहिड़ी, डा0 रमेश चन्द आदि उपस्थित थे।

NO COMMENTS