उत्तराखंड : पहले टी-20 मैच में अफगानिस्तान ने बांग्लादेश को 45 रन से हराया

उत्तराखंड को भले ही अभी बीसीसीआइ से मान्यता न मिली हो, लेकिन यहां अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला होने से देहरादून के साथ-साथ प्रदेश को वैश्विक मंच पर पहचान जरूर मिली है। राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में आइसीसी से क्रिकेट के तीनों प्रारूप (टी-20, वनडे, टेस्ट) के मैचों के लिए भी हरी झंडी मिल चुकी है। रविवार को देहरादून के राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में अफगानिस्तान और बांग्लादेश के बीच खेली जा रही तीन मैचों की टी-20 सीरीज का पहला मुकाबला खेला गया।

यह अपने आप में बड़ी उपलब्धि है। इससे निश्चित रूप से उभरती प्रतिभाओं को बेहतर मंच मिलेगा। कुछ दिन पहले अफगानिस्तान के साथ उत्तराखंड की टीम का अभ्यास मैच भी हुआ। इसके अलावा वह अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों के साथ अभ्यास में भी हिस्सा ले रहे हैं। जिन खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ियों के साथ ही खेलने का मौका न मिलता हो, उनके लिए अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों और सुविधाओं के साथ खेलना बड़ी उपलब्धि है।

इसमें भी कोई दो राय नहीं कि बीसीसीआइ से प्रदेश के क्रिकेट संघ को मान्यता नहीं मिलने से हमारे खिलाड़ियों को दूसरे राज्यों का रुख करना पड़ता है। कोई उत्तर प्रदेश तो कोई दिल्ली या अन्य राज्य का प्रतिनिधित्व कर रहा है। दूसरे प्रदेशों से खेलते हुए कई टीम भारतीय टीम में भी जगह बना चुके हैं। इनमें कुछ बड़े नामों की बात करें तो ऋषभ पंत, मनीष पांडेय, उन्मुक्त चंद जैसे खिलाड़ी हैं। अगर मान्यता मिल जाए और स्थानीय खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय सुविधाएं मिले तो स्थिति कुछ और ही होगी। बता दें कि प्रदेश की तमाम एसोसिएशन के बीच चल रही आपसी खींचतान ही मान्यता मिलने में सबसे बड़ा रोड़ा है। इसी के चलते पिछले साल अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में होने वाला रणजी मैच भी हाथ से फिसल गया था। अब जबकि बीसीसीआइ के पैनल में स्टेडियम को शामिल कर लिया गया है तो ये उम्मीद और बढ़ी है कि अब ज्यादा दिन बीसीसीआइ प्रदेश के खिलाड़ियों से मुंह नहीं फेरेगा, यानी मान्यता को लेकर फैसला जल्द होगा।

अफगानिस्तान-बांग्लादेश के बीच इस श्रृंखला के बाद तीनों प्रारूपों के मैच होने की उम्मीदें परवान पर हैं। इससे प्रदेश की अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी। दून में अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम संचालित होने के बाद युवाओं को प्रत्यक्ष के साथ ही अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। धीरे-धीरे यहां पर बड़े मैच भी आयोजित होने लगेंगे और बहुत संभव है कि स्टेडियम के इर्द-गिर्द समेत अन्य क्षेत्रों में भी ढांचागत व अन्य तरह के विकास कार्य होंगे।

राशिद खान (तीन ओवर 13 रन और तीन विकेट) की घातक गेंदबाजी की बदौलत अफगानिस्तान ने अपने होम ग्राउंड में बांग्लादेश को 45 रन से हराया। बांग्लादेश की टीम पूरे 20 ओवर भी नहीं खेल सकी। बांग्लादेश की तरफ से लिटन दास ने सबसे ज्यादा तीन चौके और एक छक्के की बदौलत 30 रन की पारी खेली। इससे पहले अफगानिस्तान ने मोहम्मद शहजाद और शेनवारी की शानदार बल्लेबाजी की बदौलत 20 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 167 रन बनाए। राशिद खान को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

 

NO COMMENTS